बिहार विधानसभा चुनाव – 2015

(किसकी जीत और किसकी हार ?)

( इस चुनाव में हो सकता है कि एनडी जीते, यह भी हो सकता है कि महागठबंधन जीत जाए, संभव है कि किसी भी दल या गठबंधन को पक्की जीत न मिले, किंतु इतना तो पक्का है कि कोई न कोई बुरी तरह हारेगा। इसीलिए सवाल यह नहीं है कि जीतेगा कौन ? प्रश्न यह है कि हारेगा कौन ? और यह जानने के लिए क्या परिणाम आने तक की प्रतीक्षा करने की आवश्यकता  है ? )…. इसी आलेख से ..

                                                                                                                **********

बिहार विधानसभा चुनाव -2015 के पांचवे यानी अंतिम चरण का प्रचार भी थम गया । पांचों चरण का चुनाव प्रचार कई मायनों में अद्भुत, विलक्षण और अभूतपूर्व रहा, न जाने कितने मानदण्ड धराशायी हुए ? कितने रिकॉर्ड बने और बिगडे ? चुनाव में मुद्दे कितने थे, कौन – कौन – से थे, क्या – क्या थे, ये सब न तो पार्टियों को याद होंगे, न उम्मीदवारों को, न ही मतदाताओं को और न मीडिया को? चुनाव आयोग को भी इस विषय में पक्के तौर पर शायद ही कुछ पता हो !

मैंने अपने ब्लॉग shreelal.in एवं फेसबुक shreelal.prasad पर गांधी जयंती और जेपी जयंती के अवसर पर किए पोस्ट में देश की महान विभूतियों का उल्लेख करते हुए बिहार चुनाव के कुछ महत्त्वपूर्ण कीरदारों की भी चर्चा की थी , उसमें न तो किसी से किसी की तुलना की गई थी और न ही किसी एक के परिप्रेक्ष्य में किसी दूसरे का मूल्यांकन किया गया था, और चूंकि मेरी ना काहू सो दोस्ती , ना काहू सो बैर है , इसीलिए केवल ऐतिहासिक तथ्यों के आलोक में अतीत का पुनर्विलोकन , वर्तमान का अवलोकन और भविष्य का आकलन किया गया था। यह प्रथम चरण के मतदान के भी पहले की बात है, लेकिन अब यहां उस विषय की पुनरावृत्ति करने का नहीं बल्कि दीवार पर लिखी इबारत को पढ कर सुनाने का इरादा है।

अंतिम चरण के मतदान की तिथि 05 नवम्बर से लेकर 08 नवम्बर को परिणाम घोषित होने तक विभिन्न माध्यमों के लाल बुझक्कडों द्वारा अनुमान, पूर्वानुमान एवं रूझान बताए जाते रहेंगे, परिणाम के बाद विश्लेषण, पिष्टपेषण , आत्म निरीक्षण, परीक्षण, मंथन, महिमामंडन, निंदन व अभिनन्दन का सिलसिला भी शुरू हो जाएगा और फिर असल मुद्दा धरा का धरा रह जाएगा क्योंकि “क्या – क्या हुआ जो नहीं होना चाहिए था और क्या – क्या नहीं हुआ जो होना चाहिए था”, जैसे विषयों पर चर्चा के लिए किसी के पास समय न होगा, तो क्यों न हम इसी खाली समय का सदुपयोग कर लें? लेकिन उसके भी पहले कुछ रैलियों में प्रधानमंत्री के भाषण सुनने के बाद मैं ने 01 सितम्बर को अपने ट्वीटर @shreelalprasad    पर जो ट्वीट किए थे, उनमें से कुछ को देख लें  –

  1. आप (मोदी जी) एनडीए के एकमात्र वक्ता हैं, संबोधन में कुछ नयापन क्यों नहीं लाते , देश-विदेश के लोग आप को प्रधानमंत्री के रूप में याद रखना चाहते होंगे?
  2. क्या आपको लगता है कि आप दुनिया के सबसे बडे लोकतांत्रिक गणतंत्र के प्रधानमंत्री के रूप में बोलते हैं? यदि लगता है तो पांच साल बाद अभी वाला भाषण सुन कर अपना मूल्यांकन कीजिएगा।
  3. और यदि कहीं कोई कमी लगती है तो अभी भी वक्त है , अकेले में आत्मावलोकन कीजिएगा क्योंकि चुनाव जीतना अलग बात है, बहुमत पाना भी अलग बात है किंतु जनमत के दिलोदिमाग में बसे रहना बिलकुल ही अलग बात है ।
  4. यदि आप तात्कालिक बहुमत पाकर ही खुश हैं तो मुझे इसका दु:ख रहेगा, जेपी कब चुनाव लडे–जीते !
  5. श्रीमान जी ! एक बात स्वीकार कर लीजिए, लालू जी आप से ज्यादा लोकप्रिय नेता थे, चौकडी (चाटुकारों) में फंस कर न जाने कहां – कहां फंस गए? , वे तो उससे बाहर आने की भरसक कोशिश कर रहे हैं , आप क्यों फंस रहे हैं? आप के लिए मज़बूरी भी तो नहीं!

चुनाव प्रक्रिया शुरू होने के पहले किए गए मेरे ये ट्वीट आज दीवार पर लिखी इबारत बन गए हैं।

होना यह चाहिए था कि हर गठबंधन ज्वलंत मुद्दों को लेकर मैदान में उतरता और उसके नेता प्रचार के दौरान अपने-अपने पद एवं कद की गरिमा का खयाल रखते हुए अपनी पहले की उपलब्धियां गिनाते और भावी कार्ययोजनाएं मतदाताओं को समझाते, किंतु दुर्भाग्य से ऐसा नहीं हुआ।

यह कदापि नहीं होना चाहिए था कि बडे – बडे लोग अपनी छोटी – छोटी  बातों से  अतीत में कमाए लाख की छवि को वर्तमान में राख कर भविष्य को भी खाक़ में मिलाने का नासमझीभरा काम करें, मगर दुर्भाग्यवश वही हुआ।

इस चुनाव में हो सकता है कि एनडी जीते, यह भी हो सकता है कि महागठबंधन जीत जाए, संभव है कि किसी भी दल या गठबंधन को पक्की जीत न मिले, किंतु इतना तो पक्का है कि कोई न कोई बुरी तरह हारेगा। इसीलिए सवाल यह नहीं है कि जीतेगा कौन ? प्रश्न यह है कि हारेगा कौन ? और यह जानने के लिए क्या परिणाम आने तक की प्रतीक्षा करने की आवश्यकता है ?

15 वर्षों के शासन के बाद कानून और जनता ने भी लालू प्रसाद यादव से बहुत कुछ छीन लिया था, इसलिए उनके पास खोने यानी हारने के लिए कुछ खास बचा नहीं था, लेकिन हां , पाने के लिए बहुत कुछ सामने पडा था, इस चुनाव में हर हालत में , चाहे उनके गठबंधन की सरकार बने या नहीं, वे बहुत कुछ पा जाएंगे जिसे पाने की उम्मीद वे खुद भी छोड चुके होंगे ।

10 वर्षों के शासन में नीतीश कुमार ने लोगों का बहुत भरोसा जीता है, तभी तो सर्वे करने वाले भी, चाहे जिसकी भी सरकार बनने का आकलन बताते रहे हों , मुख्यमंत्री के रूप में सबसे लोकप्रिय नाम नीतीश को ही बताते रहे हैं। 10 वर्षों की ऐंटी इंकम्बेंसी के दंश की प्रचलित आशंका भी जुडी हुई है,  इसीलिए नीतीश की सरकार नहीं भी बनती है तो भी उन्हें सरकार खोने के सिवा और कुछ भी खोने या हारने का अन्देशा नहीं है और यदि ऐसा होता भी है तो उसे उनकी व्यक्तिगत हार नहीं, लोकतंत्र की सामान्य प्रक्रिया ही माना जाएगा ।

रामविलास पासवान बहुत ही चर्चित नेता और योग्य मंत्री रहे हैं, इसीलिए उन्हें उतना मिलता रहा है, जितने की उम्मीद उन्हें खुद भी नहीं रहती होगी, लेकिन इस बार का बिहार चुनाव आगे – पीछे का सारा भ्रम तोड सकता है और उन्हें जनता के बीच उनके वास्तविक स्थान का एहसास निर्दयतापूर्वक करा सकता है।

जीतनराम माझी और उपेन्द्र कुशवाहा को जो मिल जाए, वही पर्याप्त होगा और उतने में ही वे खुश भी रह लेंगे, भागते भूत की लंगोटी नफा।

भाजपा में और कोई ऐसा सिक्का नहीं है जो चुनावी बाजार में चल सके, एक ही सिक्का है जिसकी  दोनों तरफ हेड ही हेड है यानी मोदी ही मोदी , बिलकुल शोले के जय की तरह , दांव पर पूरी तरह वे ही लगे हैं। इसलिए यदि जीत होती है तो वह उनकी नहीं, एनडीए की जीत होगी, और यदि हार हो जाती है तो उन्होंने क्या खोया या हारा, उसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती, क्योंकि वे तो बिना परिणाम आए ही सब कुछ हार गए लगते हैं।

दीवार पर साफ – साफ इबारत यही दीख रही है कि मोदी जी जीत भी जाएं तो कुछ पाने वाले नहीं, किंतु हार जाएं तो बुरी तरह हारे हुए कहे जाएंगे, और इसकी जिम्मेदारी उनकी पार्टी की नहीं, केवल उन्हीं  की होगी।

ऐसा इसलिए कि 68 साल के भारतीय लोकतंत्र और संघीय ढांचे में किसी भी प्रधानमंत्री ने कभी भी इस तरह की लडाई नहीं लडी और ऐसे शब्द-शस्त्रों का प्रयोग नहीं किया। प्रधानमंत्री की कुर्सी दांव पर लगा देते तो किसी को कोई ऐतराज़ न होता, लेकिन यहां तो प्रधानमंत्री का पद और कद ही दांव पर लग गया , भारत के लोक को दुख इसी बात का है।

मान लीजिए कि आप जीत जाते और एनडीए की सरकार बिहार में भी बन जाती तो क्या समुद्रगुप्त की तरह दिग्विजयी कहलाने का तमगा मिल जाता, या यही मान लीजिए कि बिहार में महागठ्बंधन की सरकार बन जाती है तो क्या पहाड टूट जाता, ऐसा होना तो गणतांत्रिक लोकतंत्र में स्वाभाविक ही है, मगर आपने तो दिल्ली की हार की धूल झाड कर अपराजेय जोडी साबित करने की फिराक में खुद को कहीं का नहीं रखा और भारतीय लोकतंत्र के सबसे बडे पद व कद को भी कहीं का नहीं छोडा ।

आनेवाला साल भी आप के लिए अनेक परीक्षाएं ले कर आ रहा है, ध्यान रखिएगा, आपकी अपनी  सोच पर कोई और सोच हावी न होने पावे, वरना, लोहिया के शब्दों में, ज़िंदा कौमें पांच साल इंतज़ार नहीं करतीं!

एक बात और, आपके प्रवक्ता लच्छेदार बोलते हैं, दमदार नहीं , वस्तुत: यह कमी संघ कैडर के ज्यादातर वक्ताओं में हमेशा रही है, उन्हें विशेष ट्रेनिंग दिलाईए और विश्वसनीय तथा स्वीकार्य बनवाईए।

‘अमन’ श्रीलाल प्रसाद

मो. 09310249821

    Blog:      shreelal.in           Facebook:  shreelal.Prasad                    Facebook Page:  shreelal Prasad ‘Aman’

    Twitter:  @shreelalprasad     Email:   shreelal_prasad@rediffmail.com

21,831 thoughts on “बिहार विधानसभा चुनाव – 2015

  • 25/05/2017 at 8:30 am
    Permalink

    Juice (239)-I also really like Casey Kasem’s American Top 40. It’s really groovy, and I get to hear all the hip new tunes as they come out.I especially like the dedications. The way Casey reads them is heartwarming.

    Reply
  • 25/05/2017 at 8:03 am
    Permalink

    These girls are so wonderful. I especially love your birthday girl card. These images are a great addition to the world of rubber! I can’t wait to put some color to them!

    Reply
  • 25/05/2017 at 7:54 am
    Permalink

    ¿Tomb Raider buena? Por dios… si el mayordomo es joven y tiene un supermegalaboratoriochachiguay en casa, con trabajadores que hacen robots en caravanas del jardín…No hay NINGUNA película de videojuegos decente. NINGUNA.

    Reply
  • 25/05/2017 at 7:35 am
    Permalink

    Foreign policy. Diplomacy. State Department. Hillary Clinton. My how diligently everyone avoids mention of the amazing invisible Secretary of State. Unless she runs for President. Then we’ll hear what an important “credential” she acquired by “managing” the State Department. Meanwhile?

    Reply
  • 25/05/2017 at 7:08 am
    Permalink

    Confezione Viagra [url=http://viag1.xyz/how-to-get-viagra.php]How To Get Viagra[/url] Cialis Livraison Rapide Belgique Keflex Recovery [url=http://strattera.ccrpdc.com/buy-generic-strattera-online.php]Buy Generic Strattera Online[/url] Viagra Softabs Amoxicillin Espanol [url=http://zol1.xyz]Buy Zoloft[/url] Meilleur Site Achat Kamagra Supreme Suppliers Mumbai [url=http://cial5mg.xyz/cialis-cheap.php]Cialis Cheap[/url] Articulo 138 Keflex Affects Urination [url=http://viagra.ccrpdc.com/sildenafil-citrate.php]Sildenafil Citrate[/url] Amoxicillin Side Effects Cephalexin Facts [url=http://inderal.ccrpdc.com/prices-inderal.php]Prices Inderal[/url] Propecia Free 30 Day Trial buy accutane online 20mg [url=http://cial5mg.xyz/cialis-cheap.php]Cialis Cheap[/url] Viagra Ca Propecia Frontaler Haarausfall [url=http://kamagra.ccrpdc.com/kamagra-online-fast.php]Kamagra Online Fast[/url] Macrobid 100mg Discount Worldwide Pharmacy Next Day California Vardenafil Oral [url=http://cial5mg.xyz/buy-generic-cialis.php]Buy Generic Cialis[/url] Generic Staxyn Brand Cialis Online No Prescription [url=http://cial5mg.xyz/cheapest-cialis-online.php]Cheapest Cialis Online[/url] Ward 939 Capsule Awc Canadian Pharmacy Mall [url=http://cial5mg.xyz/buy-cialis.php]Buy Cialis[/url] Propecia Treatment Hair Loss Viagra Dapoxetine Purchase [url=http://cial5mg.xyz/fast-delivery-cialis.php]Fast Delivery Cialis[/url] Zithromax Website What Is Keflex For [url=http://cial5mg.xyz/cialis-online-buy.php]Cialis Online Buy[/url] Tarif Du Levitra En Pharmacie Isotretinoin find [url=http://zol1.xyz/buy-zoloft-cheap.php]Buy Zoloft Cheap[/url] Einnahme Levitra Amoxicillin Max Dose [url=http://cial1.xyz/buy-cheap-cialis-on-line.php]Buy Cheap Cialis On Line[/url] No Prescription Viagra Sidle Fail Viagra Kaufen 100mg [url=http://kama1.xyz/cheap-generic-kamagra.php]Cheap Generic Kamagra[/url] Propecia Order Online affordable Cipro Without Prescriptions [url=http://propecia.ccrpdc.com/propecia-buy-online.php]Propecia Buy Online[/url] Cialis 5mg Preise Osterreich Kamagra Oral Jelly Canada [url=http://zol1.xyz/zoloft-cost.php]Zoloft Cost[/url] Securemed Levitra Senza Ricetta In Farmacia [url=http://kama1.xyz/kamagra-pill.php]Kamagra Pill[/url] Levitra Farmaco Comprar Cialis Red [url=http://kama1.xyz/kamagra-jelly-usa.php]Kamagra Jelly Usa[/url] Dapoxetina Foglietto Illustrativo Fast Ejaculation [url=http://viag1.xyz/cheap-viagra-fast.php]Cheap Viagra Fast[/url] Quel Site Pour Acheter Kamagra Levitra Savings Card [url=http://zol1.xyz/zoloft-generic.php]Zoloft Generic[/url] Cialis Gunstig Kaufen Priligy Revenu [url=http://cial1.xyz/cialis-free-offer.php]Cialis Free Offer[/url] Cialis Seguridad Social Cialis 8 Comprimes [url=http://cial5mg.xyz/cialis-40mg.php]Cialis 40mg[/url] Baclofen For Sale Achat Cialis Livraison Rapide [url=http://zol1.xyz/implicane-generic.php]Implicane Generic[/url] Free Viagra Samples From Canada Acheter Cialis Levitra [url=http://cial1.xyz/generic-cialis-online.php]Generic Cialis Online[/url] Cialis Generika Kaufen Erfahrungen Cheep Viagra [url=http://kama1.xyz/buy-kamagra.php]Buy Kamagra[/url] Buy Orlistat Online Cheap Order Now Generic Dutasteride [url=http://kama1.xyz/how-much-is-kamagra.php]How Much Is Kamagra[/url] Commentaire Achat Cialis France Levitra Orosolubile Prezzo In Farmacia [url=http://kama1.xyz/how-to-buy-kamagra.php]How To Buy Kamagra[/url] Amoxicillin Causes Ear Ringing Propecia Diabetes Dejar De Fumar [url=http://zol1.xyz/buy-zoloft-online-usa.php]Buy Zoloft Online Usa[/url] Effetti Collaterali Cialis Generico Acquistare Il Cialis [url=http://kama1.xyz/price-of-kamagra.php]Price Of Kamagra[/url] Propecia Impotenza Il Cialis Commenti [url=http://zol1.xyz/cheapest-zoloft.php]Cheapest Zoloft[/url] Where To Buy Macrobid Does Cephalexin Affect Your Birth Control [url=http://zoloft.ccrpdc.com/get-cheap-zoloft-online.php]Get Cheap Zoloft Online[/url] Propecia Work On The Temples Levitra Valore [url=http://cial1.xyz/cialis-order.php]Cialis Order[/url] Cialis Plux Dapoxetine Online Ordering Pharmacy By Mail From Canada [url=http://viag1.xyz/fast-delivery-viagra.php]Fast Delivery Viagra[/url] Viagra 100mg Import Reimport Viagra Precio Farmacity [url=http://viag1.xyz]Buy Viagra[/url] Keflex And Drug Interactions Cialis 20 Posologie [url=http://zol1.xyz/zoloft-free-offer.php]Zoloft Free Offer[/url] Propecia Edema Costo De Kamagra [url=http://cial5mg.xyz/cialis-online-pharmacy.php]Cialis Online Pharmacy[/url] Achat Cialis Serieux Impetigo Amoxicillin [url=http://cial5mg.xyz/generic-cialis-online.php]Generic Cialis Online[/url] Amoxicillin For Vaginal Infection Buy Seasonique Online No Prescription [url=http://viag1.xyz/order-viagra.php]Order Viagra[/url] Where To Buy Lasix Water Pill

    Reply
  • 25/05/2017 at 7:02 am
    Permalink

    I am sure you are following this more closely than I, but I still don’t see the staff burning the redshirt on Drake unless they have to. And with Lacy, Fowler, Yeldon and Hart ahead of him I don’t see it happening unless there are injuries to more than just Lacy. I think we see our backup QB Blake Sims before Drake. Just my gut feeling at this point. If there are multiple injuries, then I (of course) think all bets are off.

    Reply
  • 25/05/2017 at 6:47 am
    Permalink

    LOVE the target – that was too funny. I think this is the first one I’ve seen that the old Stanley box cutter was actually sharp enough to cut the skin without sawing at it. Loved the point where the box cutter hit goo, kersplat!Thanks for telling us where to look for the good stuff!

    Reply
  • 25/05/2017 at 6:45 am
    Permalink

    Bonjour et merci pour cet article fort intéressant.Je voulais savoir si il était possible d’avoir votre avis concernant le sort de la minorité turkmène de Syrie. Quel est leur nombre le plus probable (j’ai souvent entendu 1 million), leur situation en Syrie et le rôle qu’ils ont joué et peuvent jouer dans les relations turco-syriennes.Merci de votre possible réponse, cordialement.

    Reply
  • 25/05/2017 at 6:12 am
    Permalink

    'Hi' I found your link at UBP11, this is a great way to find new blogs to read. Your blog is beautiful!You might want to come over and enter my Easter Giveaway :)Nikki

    Reply
  • 25/05/2017 at 4:56 am
    Permalink

    Hi, i feel that i saw you visited my weblog thus i came to “return the want”.I’m trying to to find things to enhance my site!I guess its adequate to make use of some of your concepts!!

    Reply
  • 25/05/2017 at 3:20 am
    Permalink

    Also, I don't like the adding the "like"s to favourites. And it seems to have forgotten I like my videos automatically stretched to be bigger.Other than that, it's fantastic!

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

74 visitors online now
47 guests, 27 bots, 0 members